किजुन रेखा, जिसे बेस लाइन या किजुन-सेन भी कहा जाता है, पांच घटकों में से एक है जो इचिमोकू क्लाउड संकेतक बनाती है। जब वे पार करते हैं तो व्यापार संकेतों को उत्पन्न करने के लिए किजुन लाइन का उपयोग आम तौर पर रूपांतरण लाइन (तेनकान-सेन) के साथ किया जाता है । इन संकेतों को इचिमोकू संकेतक के अन्य घटकों के माध्यम से आगे फ़िल्टर किया जा सकता है।

Making Kin from Gold: Dowry, Gender, and Indian Labor Migration to the Gulf

Wright, Andrea. 2020. “Making Kin from Gold: Dowry, Gender, and Indian Labor Migration to the Gulf.” Cultural Anthropology 35, no. 3: 435–461. https://doi.org/10.14506/ca35.3.04.

Drawing on ethnographic research in the United Arab Emirates and India, this article explores relationships among Indian kinship, gender, and transnational migration through a focus on gold that migrant men buy for their sisters’ or daughters’ weddings. Gold, used as a key component of dowry, लीडिंग और लैगिंग संकेतक समझाया is often considered “traditional” in an Indian setting, but is actually shaped by liberalization, contemporary statecraft, and transnational migration. As migrants purchase gold for their sisters and daughters with money they earn in the Gulf, they express adult masculinity by being dutiful brothers and sons. This examination of Indian labor migration reveals how workers and their families understand migration as a way to build and maintain kinship ties, and how gold bought in the Gulf becomes a kinship substance that informs understandings of gender and family.

خلاصہ

متحدہ عرب امارات اور ہندوستان کی انسیانیاتی تحقیق پر مبنی یہ تحقیقی مقالہ رشتہ داری ، جنس، اور بین الاقوامی نقل مکانی کے تعلق کا مطالعہ کرتا ہے جس کا مرکز وہ سونا ہے جو مہاجر مرد اپنی بہن بیٹیوں کی شادی کے لئے خریدتے ہیں۔ سونا جو کہ جہیز کا اہم حصہ ہے، ا کثر ہندوستانی سماج میں ایک "رسم" کی طرح سمجھا جاتا ہے، لیکن اس کو در اصل لبرلائیز یشن ، ہم عصر دور حکومت، اور بین الاقوامی نقل مکانی کے ذریعہ شکل ملی ہے۔ مہاجر اپنی بہن بیٹیوں کے لئے خلیجی ممالک میں کمائے پیسوں سے جب سونا خریدتے ہیں تو وہ فرض ادا کر کے اپنی مردانگی دکھاتے ہیں۔ ہندوستانی مہاجر محنت کشوں پر یہ مطالعہ اس بات کو دکھاتا ہے کہ یہ مزدور اور ان کے خاندان اسے ایک طرح سے رشتہ داری بنانے ، اسے قائم رکھنے کا ایک طریقہ سمجھتے ہیں، اور اس طرح کا سونا رشتہ داری کا ایک سامان بن جاتا ہے، جو جنس اور خاندان کے مطلب پر روشنی ڈالتا ہے۔

Indicators कितने होते है,

इंडीकेटर्स की कोई निश्चित संख्या नहीं है, ट्रेडर्स को को जब कुछ नए पैटर्न समझ में आते है, इसी नए पैटर्न को वे एक इंडीकेटर्स मान कर उसे एक इंडीकेटर्स का नाम दे देते है,

और इसी कारण बहुत सारे नए इंडीकेटर्स बनते जाते है, और किसी एक इन्सान के लिए लीडिंग और लैगिंग संकेतक समझाया सारे इंडीकेटर्स को समझना बहुत बड़ा काम बन जाता है,

कोई व्यक्ति सारे इंडीकेटर्स के बारे में समझने की कोशिश करे तो उसका बहुत ज्यादा समय भी ख़राब हो सकता है, और अंत में उसे कुछ लोकप्रिय इंडीकेटर्स पर ही वापस आना पड़ेगा,

इसलिए हमें उन्ही इंडीकेटर्स को समझने की जरुरत है, जो समय के साथ जांचे और परखे (Time Tasted) गए है, ताकि हम भी उन इंडीकेटर्स के सही इस्तेमाल करके फायदा उठा सके,

Indicators के फायदे (Benefits of using Indicators)

इंडीकेटर्स के इस्तेमाल करने से ट्रेडर को होने वाले फायदे कुछ इस प्रकार है –

  1. Price Movementकी समझ – इंडीकेटर्स के इस्तेमाल से हमें किसी स्टॉक के price में होने वाले बदलाव (movement) को अच्छे से समझने बहुत हेल्प मिलता है,
  2. Price के UP और LOW लेवल की सुचना – इंडीकेटर्स के इस्तेमाल से हमें किसी स्टॉक के PRICE के ऊपर और नीचे जाने के लेवल को अच्छे से समझने में बहुत हेल्प मिलता है,
  3. TREND की ADVANCE में समझ – इंडीकेटर्स के इस्तेमाल से हमें मार्केट के ट्रेंड का कन्फर्मेशन मिलने के साथ आगे आने वाले ट्रेंड को भी समझने में बहुत हेल्प मिलता है, यानी इंडीकेटर्स से CURRENT TREND की कन्फर्मेशन मिलने के साथ आने वाले TREND को भी समझा जा सकता है,
  4. Confirming Other Technical Tools – इंडीकेटर्स के इस्तेमाल से हमें technical analysis के दुसरे tools जैसे कि – कैंडलस्टिक पैटर्न, volume और सपोर्ट and रेजिस्टेंस द्वारा दिए जाने वाले signal को भी हम कन्फर्म कर सकते है , और इस से हमें double कन्फर्मेशन मिलता है कि हमें कोई ट्रेड करना चाहिए या नहीं,

इंडीकेटर्स के प्रकार (Type of Indicators)लीडिंग और लैगिंग संकेतक समझाया

Indicators दो प्रकार के होते है –

  1. Leading Indicators (लीडिंग इंडीकेटर्स )
  2. Lagging Indicators (लैगिंग लीडिंग और लैगिंग संकेतक समझाया इंडीकेटर्स)

अब आइये इसे डिटेल में समझने की कोशिस करते है –

1 . Leading Indicators (लीडिंग इंडीकेटर्स)

हिंदी में Lead का का अर्थ होता है – नेतृत्व, और इस तरह लीडिंग इंडीकेटर्स ऐसे इंडीकेटर्स होते है, जो price को लीड करते है,

और ये leading इंडीकेटर्स हमें किसी स्टॉक के भाव में आने वाले तेजी या मंदी (Trend Reversal) की एडवांस सुचना देते है, लेकिन लीडिंग इंडीकेटर्स द्वारा दिए जाने वाले सभी इंडिकेशन यानि signal सही नहीं होते है, और इसलिए हमें पूरी तरह लीडिंग और लैगिंग संकेतक समझाया से इंडीकेटर्स के ऊपर भरोसा नहीं करना चाहिए,

क्या कहती है किजून रेखा?

किजुन रेखा या बेस लाइन इचिमोकू क्लाउड संकेतक का हिस्सा है।

इचिमोकू क्लाउड एक तकनीकी संकेतक है जो सिग्नल खरीदता और बेचता है । इसके विकासकर्ता, गोइची होसोदा, ने संकेतक को “एक नज़र संतुलन चार्ट” होने के लिए डिज़ाइन किया था।

इचिमोकू क्लाउड संकेतक में कई अलग-अलग लाइनें शामिल हैं।

  • तेनकान-सेन-रूपांतरण लाइन
  • किजुन-सेन-बेस लाइन
  • सेन्को स्पान ए-लीडिंग स्पैन ए
  • सेनको स्पैन बी-लीडिंग स्पैन बी
  • चिको स्पैन लैगिंग स्पैन

जबकि “क्लाउड”, लीडिंग स्पैन ए और बी लीडिंग और लैगिंग संकेतक समझाया से बना है, जो इकिमोकू क्लाउड इंडिकेटर की सबसे प्रमुख विशेषता है, किजुन लाइन तेनकान लाइन द्वारा पार किए जाने पर व्यापारिक संकेत उत्पन्न करती है। तेनकान रेखा लीडिंग और लैगिंग संकेतक समझाया 9-अवधि मूल्य मध्य-बिंदु है, इसलिए यह किन्जुन रेखा की तुलना में अधिक तेज चलती है जो 26 अवधियों को देखती है।

एक किजुन रेखा का उदाहरण

निम्नलिखित चार्ट एसपीडीआर एसएंडपी लीडिंग और लैगिंग संकेतक समझाया 500 ईटीएफ ( एसपीवाई ) पर लागू एक इचिमोकू क्लाउड संकेतक का एक उदाहरण दिखाता है ।

ऊपर दिए गए चार्ट में, किजुन रेखा लाल है और तेनकान रेखा नीली है। एक संक्षिप्त बिक्री के बाद, तेनकन 2016 की शुरुआत में किजुन से ऊपर चला गया। लीडिंग और लैगिंग संकेतक समझाया यह संभावित खरीद संकेत था। 2018 तक दोनों लाइनें फिर से पार नहीं हुईं, जो कि बेचने के संकेत प्रदान करतीं। अधिकांश समय के लिए, कीमत किजुन लाइन और “क्लाउड” से ऊपर रही, जिससे अपट्रेंड की पुष्टि हुई ।

किजुन रेखा और एक चलती औसत के बीच अंतर

किजुन रेखा एक चलती हुई मध्य-बिंदु है, जो एक निर्धारित लीडिंग और लैगिंग संकेतक समझाया अवधि में उच्च और निम्न पर आधारित है। इसकी गणना उच्च और निम्न को जोड़कर लीडिंग और लैगिंग संकेतक समझाया और दो से विभाजित करके की जाती है। एक चलती औसत (एमए) अलग है। यह समयावधि की समयावधि के समापन मूल्यों को बताता है और फिर उस अवधियों को विभाजित करता है। 26-अवधि कीजुन लाइन और 26-अवधि एमए विभिन्न मूल्यों का उत्पादन करेंगे, और इसलिए व्यापारियों को अलग-अलग जानकारी प्रदान करते हैं।

जब तक बहुत मजबूत प्रवृत्ति नहीं है, किजुन लाइन अक्सर कीमत के पास दिखाई देगी। जब किजुन लाइन अक्सर अंतर-रेखा या कीमत के पास होती है, तो यह प्रवृत्ति दिशा का आकलन करने में मदद करने के लिए उतना उपयोगी नहीं है।

वही तेनकन लाइन के साथ क्रॉसओवर के लिए जाता है। जब कीमत दृढ़ता से बढ़ती है, तो क्रॉसओवर सिग्नल काफी लाभदायक हो सकते हैं। यदि क्रॉसओवर के बाद मूल्य प्रवृत्ति में विफल रहता है, तो कई क्रॉसओवर सिग्नल अप्रभावी होंगे।

पावर फैक्टर क्या है? ( What is power factor ? ) || TYPE OF POWER FACTOR || POWER FACTOR UNIT

वोल्टेज और करंट की वेवफॉर्म में आये अन्तर को ही पावर फैक्टर (Cos θ) कहते है।
पॉवर फैक्टर को समझने के लिए पहले यह समझते है की करंट और वोल्टेज की वेव क्या है?

अच्छा और सस्ता कापसिटर खरीदना चाहते तो यहाँ से खरीद सकते हो

Power Factor खराब होने का कारण सिर्फ करंट और वोल्टेज के वेव में अंतर होता है| जब यह करंट ओर वोल्टेज दोनो की Waveform एक साथ न चलके आगे पीछे हो जाती है| तो इससे पॉवर फैक्टर ख़राब होता है| जितना ज्यादा वेव में अंतर होगा पॉवर फैक्टर उतना ही खराब होगा| यह बदलाव हमारे घर में या इंडस्ट्रीज़ में अलग अलग प्रकार के लोड के कारण होता है|

power factor

जब WAVE FORM एक साथ चलना स्टार्ट होती है और एक साथ ख़त्म हो जाती है| तो इसका मतलब हमारा पावर फैक्टर लीडिंग और लैगिंग संकेतक समझाया सही है| इसे Unity Power Factor कहते है|

सबसे ज्यादा पढ़े गए

आज का पंचांग- 18 दिसंबर , 2022

आज का पंचांग- 18 दिसंबर , 2022

Srimad Bhagavad Gita- कर्म का फल

Srimad Bhagavad Gita- कर्म का फल

देश में कोरोना वायरस का दिन-प्रतिदिन गिर रहा ग्राफ, 24 घंटे में सामने आए मात्र 176 नए मामले

देश में कोरोना वायरस का दिन-प्रतिदिन गिर रहा ग्राफ, 24 घंटे में सामने आए मात्र 176 नए मामले

रेटिंग: 4.88
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 566