सेबी ने म्यूचुअल फंड निवेशकों के हितों की रक्षा के लिए यह निर्णय़ किया.इसके तहत जब भी म्यूचुअल फंड के ज्यादातर ट्रस्टी किसी स्कीम को बंद करने का फैसला करते हैं, उनके लिए यूनिटधारकों की सहमति लेने को अनिवार्य करने का निर्णय किया गया है.

Indian Business Mind

New Year से पहले डिवाइसेज पर कंपनियों ने तगड़ा डिस्काउंट देने का मन बना लिया है, कंपनियां अपने ग्राहकों को New Year के मौके पर भारी बचत करवाना चाहती हैं | लैपटॉप पर भी ये डिस्काउंट शामिल किया गया है, अगर आप भी इस डिस्काउंट का लाभ लेना चाहते हैं, तो हम आपको उस लैपटॉप के बारे में बताने जा रहे हैं जिस पर सबसे ज्यादा डिस्काउंट मिल रहा है और क्या म्यूच्यूअल फंड्स में ऑनलाइन निवेश करना सुरक्षित है ग्राहक इसे 7 हजार रुपये से कम कीमत में घर ले जा क्या म्यूच्यूअल फंड्स में ऑनलाइन निवेश करना सुरक्षित है सकते हैं | लैपटॉप पर मिलने वाले डिस्काउंट की बात करे तो ग्राहकों को ये डिस्काउंट Flipkart पर दिया जा रहा है, फ्लिपकार्ट पर एक ऐसा डिस्काउंट या ऑफर है जो शायद अभी तक किसी लैपटॉप पर नहीं मिल रहा है, जिस लैपटॉप के बारे में हम बात कर रहे हैं वो ASUS Chromebook Celeron Dual Core है | 4 GB/64 GB EMMC Storage/Chrome OS लैपटॉप फ्लिपकार्ट पर सबसे कम कीमत में मिल रहा है और इसकी असल कीमत 25,990 रुपये है, फ्लिपकार्ट पर इस लैपटॉप पर 28% डिस्काउंट है,जिसके बाद इस लैपटॉप की कीमत सिर्फ 18,490 रुपये रह जाती है, लेकिन यह ऑफर यहीं खत्म नहीं होता है | अगर आप चाहें तो इस लैपटॉप को महज 6 हजार रुपये में खरीद सकते हैं क्योंकि इस

India में नहीं बिकेंगे बिना USB Type-C वाले Smartphones!

Smartphones without USB Type-C will not be sold in India!

सरकार एक नई योजना बना रही है, जिसमे मोबाइल और वेयरेबल इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस के लिए दो समान्य प्रकार के समान्य पोर्ट की प्लानिंग कर रहा है | कंज्यूमर अफेयर्स मिनिस्ट्री के अनुसार, इंडियन स्टेंडर्ड ब्यूरो (BIS) USB टाइप-सी चार्जिं पोर्ट के लिए क्वालिटी स्टेंडर्ड्स के साथ सामने आया है |

ई-कचरे को कम करने के लिए यह फैसला लिया जा रहा है, यानी मोबाइल, स्मार्टफोन और टैबलेट के लिए एक USB टाइप-सी चार्जर और वेयरेबल इलेक्ट्रॉनिक क्या म्यूच्यूअल फंड्स में ऑनलाइन निवेश करना सुरक्षित है डिवाइस के लिए समान्य चार्जर आएगा |

'Mutual fund'

अच्छा तो यह होता कि बैंक बैलेंस, प्रॉपर्टी के साथ-साथ अलग-अलग खातों में निवेश और रकम दिखे जो साल दर साल बढ़ती जाए और जब आप उसे देखें तो आपके माथे के बल मिटते चले जाएं. इसके क्या म्यूच्यूअल फंड्स में ऑनलाइन निवेश करना सुरक्षित है लिए जरूरी है कि आप स्मार्ट सेविंग और इनवेस्टमेंट प्लान बनाएं. यह कोई लुका-छुपा फॉर्मूला नहीं है. ज़रा सी समझदारी होनी चाहिए और आप जिंदगी के उस कुचक्र से बच जाएंगे जिसमें ज्यादातर लोग फंस के आधी उम्र बीत जाने के बाद अफसोस करते हैं.

म्यूचुअल फंड में एक फंड टैक्स सेविंग फंड भी होता है जिसे आम तौर पर ELSS (Equity Link Saving scheme) कहते हैं. चूंकि क्या म्यूच्यूअल फंड्स में ऑनलाइन निवेश करना सुरक्षित है यह एक टैक्स सेविंग स्कीम है तो इसके साथ कुछ पाबंदियां भी आती हैं. यानि इस योजना में कुछ लॉकिन इन समय है. इससे साफ है कि इस दौरान आप निवेश की गई क्या म्यूच्यूअल फंड्स में ऑनलाइन निवेश करना सुरक्षित है राशि को निकाल नहीं सकते हैं. अमूमन यह लॉकइन समय कम से कम तीन साल का होता है.

अमूमन म्यूचुअल फंड को एक्सपर्ट ही मैनेज करते हैं. इन लोगों को फंड मैनेजर कहा जाता है. यह फंड मैनेजर यह देखते हैं कि कहां निवेश करने से निवेशकों को ज्यादा लाभ होगा यानि ज्यादा रिटर्न मिलेगा. म्यूचुअल फंड उन निवेशकों के लिए अच्छा विकल्प माना जाता है जो निवेश का जोखिम खुद उठाने में सक्षम नहीं होते. ये लोग बाजार के बारे में और कंपनियों के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं होने के चलते ऐसे फंड मैनेजरों की राय पर काम कर क्या म्यूच्यूअल फंड्स में ऑनलाइन निवेश करना सुरक्षित है सकते हैं.

क्या म्यूच्यूअल फंड्स में ऑनलाइन निवेश करना सुरक्षित है

आयकर से संबंधित सामान्य प्रश्न

1800 180 1961(or)

08:00 बजे से - 22:00 बजे तक (सोमवार से शनिवार)

ई-फ़ाईलिंग और केंद्रीकृत प्रसंस्करण क्या म्यूच्यूअल फंड्स में ऑनलाइन निवेश करना सुरक्षित है केंद्र

आयकर विवरणी या फॉर्म और अन्य मूल्य वर्धित सेवाओं की ई-फ़ाईलिंग क्या म्यूच्यूअल फंड्स में ऑनलाइन निवेश करना सुरक्षित है और सूचना, सुधार, प्रतिदाय और अन्य आयकर प्रसंस्करण से संबंधित प्रश्न

1800 103 0025 (or)

08:00 बजे से - 20:00 बजे से (सोमवार से शुक्रवार

09:00 बजे से - 18:00 बजे से (शनिवार को)

कर सूचना नेटवर्क - एन.एस.डी.एल.

एन.एस.डी.एल. के माध्यम से जारी करने/अपडेट करने के लिए पैन और टैन आवेदन से संबंधित प्रश्न

07:00 बजे से - 23:00 बजे तक (सभी दिन)

क़्विक लिंक्स

Thank you Income Tax Dept. Highly appreciate it. Amount credited in bank account.

An ITR was filed on 04.11.22 at 8.45 PM and e-verified instantly It was Processed within 3 minutes n intimation advice uploaded in system immediately.On 09.11.22,refund credited in Filer account. What क्या म्यूच्यूअल फंड्स में ऑनलाइन निवेश करना सुरक्षित है a quick and marvelous service.Thanks

thank you for your response and resolving a long pending issues.

Thank you so much sir IncomeTaxIndia. For your quick response. My issue escalated very quickly😊😊🙏🙏

Thanks to IncomeTaxIndia . got a call from the Team and they ensured me that my rectification processing would clear this pending payment. it would take maybe a week to process it..again thanks to the Team on reaching out to resolve issues people are facing. Kudos !!

इलेक्ट्रिक बसों के लिए डीटीसी का टाटा मोटर्स की सब्सिडियरी के साथ करार

टाटा मोटर्स की सब्सिडियरी ने दिल्ली ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन के साथ करार किया है।टाटा मोटर्स की सब्सिडियरी टीएमएल सीवी (TML CV) मोबिलिटी सॉल्यूशंस लिमिटेड ने डीटीसी (DTC) के साथ दिल्ली में 1500 बिजली से चलने वाली बसों के परिचालन (ऑपरेशन) के लिए करार किया है।

इस करार के तहत टीएमएल सीवी को 1500 इलेक्ट्रिक बसों की आपूर्ति, ऑपरेट और उसका रख-रखाव भी करना होगा। कंपनी को यह सारी क्या म्यूच्यूअल फंड्स में ऑनलाइन निवेश करना सुरक्षित है जिम्मेदारियां 12 साल तक के लिए करनी होंगी। कंपनी को 12 मीटर लंबी लो फ्लोर वाले एयर कंडीशंड इलेक्ट्रिक बसों के रख-रखाव करनी है। टीएमएल सीवी (TML CV) मोबिलिटी सॉल्यूशंस लिमिटेड के अध्यक्ष असीम कुमार मुखोपाध्याय ने कहा कि दिल्ली ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन के साथ हमारे संबंध एक दशक से भी ज्यादा समय से है। डीटीसी के साथ यह आपसी भरोसा और सहयोग ही संबंधों को और बेहतर बनाता है। इस नए ऑर्डर से हमारे रिश्ते और मजबूत होंगे। हम इस बात को लेकर आश्वस्त हैं कि बिजली से चलने वाली गाड़ियां दिल्ली के यात्रियों को सतत, सुरक्षित और सार्वजनिक यातायात की आरामदायक सुविधा मिलेगी। कंपनी के मुताबिक दिल्ली ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन की ओर बिजली से चलने वाले इलेक्ट्रिक बसों के लिए यह अबतक का सबसे बड़ा ऑर्डर है। दिल्ली ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन की प्रबंध निदेशक शिल्पा शिंदे ने कहा कि, हमने बिजली से चलने वाले 1500 बसों के लिए करार करते वक्त हमें खुशी हो रही है। देश की राजधानी में इलेक्ट्रिक मोबिलिटी की सुविधा मुहैया कराना एक बड़ कदम है। इससे दिल्ली के हवा की गुणवत्ता में भी सुधार देखने को मिलेगी। इसकी वजह जीरो-उत्सर्जन, ध्वनि रहित बसें होंगी। शुक्रवार को का शेयर एनएसई (NSE) पर 4.04% चढ़ कर 378.50/शेयर पर बंद हुआ।

रेटिंग: 4.28
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 528